Sun. May 26th, 2024

Tortoise घर में कछुआ रखने से बहुत फायदे

Tortoise

पौराणिक ग्रंथों में भी कछुए का उल्लेख मिलता है। हिंदू धर्म के अनुसार, कछुआ इसलिए भी शुभ और सुख-समृद्धि वाला माना जाता है क्योंकि भगवान विष्णु ने स्वयं कच्छप अवतार लिया था जिसे उनके कूर्म अवतार के नाम से जाना जाता है। भगवान विष्णु ने कछुए का रूप धारण कर क्षीरसागर के समुद्र मंथन के समय मंद्रांचल पर्वत को अपने कवच पर थामा था। इसलिए अपने व्यापार और घर में सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए कछुआ रखना मंगलकारी होता है।

Tortoise घर में कछुआ रखने से बहुत फायदे

कछुआ लंबे समय तक जीवित रहने वाला एक शांत जीव होता है। कछुए की फोटो या फिर अष्टधातु से बने कछुए को भी घर के मंदिर में रखा जा सकता है। कछुए को पानी से भरे पीतल या अष्टधातु के पात्र में ही रखना चाहिए।

वास्तु के अनुसार उत्तर दिशा शुभ होती है। इसलिए कछुए का चित्र आपको उत्तर दिशा की तरफ ही लगाना चाहिए क्योंकि उत्तर दिशा को लक्ष्मी जी की दिशा माना गया है। ऐसा करने से धन लाभ और शत्रुओं का नाश होता है। घर और दुकान के मुख्यद्वार पर कछुए का चित्र लगाने से व्यापार में धन लाभ और सफलता मिलती है। कछुआ धन प्राप्ति का सूचक होता है, यदि किसी को धन संबंधी परेशानी हो, तो उसे क्रिस्टल वाला कछुआ लाना चाहिए

कछुआ: फेंगशुई में महत्व

फेंगशुई के अनुसार, कछुए को कभी भी अपने बेडरूम में नहीं रखना चाहिए क्योंकि ऐसा करना फेंगशुई के हिसाब से नुकसानदायक हो सकता है। इसका उल्टा प्रभाव पड़ सकता है। कछुए की स्थापना हेतु सर्वोत्तम स्थान घर का ड्राइंग रूम है। घर पर रखे जाने वाले कछुए का मुंह घर के अंदर होना चाहिए।

कछुआ: फेंगशुई के अनुसार लाभकारी

कछुए को रखने से घर के सदस्यों की उम्र भी बढ़ती है क्योंकि कछुआ भी लंबी उम्र का जीव जंतु है। कछुआ लंबे समय तक जीता है और सौभाग्य में भी वृद्धि होती है, इसलिए घर या ऑफिस में इसका होना लाभदायक माना जाता है।

 

कछुआ: परिवारिक शांति का प्रतीक

यदि किसी के परिवार में घर के सदस्यों के बीच लड़ाई-झगड़े होते रहते हैं तो घर में 2 कछुओं का जोड़ा रखना चाहिए। ऐसा करने से घर के सदस्यों के बीच चल रही अनबन खत्म हो जाएगी और प्यार बढ़ेगा। कछुआ घर पर रखने से शांति बनी रहती है। आपसी प्यार बढ़ता है। कछुआ रखने से क्लेश और बुरी शक्तियां दूर होती हैं।

कछुआ: शुभ संकेत

फेंगशुई विज्ञान कहता है कि कछुए को घर पर रखने से किसी की बुरी नजर नहीं लगती, कछुआ नजर दोष खत्म करता है। साथ ही अगर किसी व्यक्ति का स्वास्थ्य लंबे समय से सही नहीं हो तो कछुए को दक्षिण पूर्व दिशा में रखना चाहिए, इससे लाभ होता है। घर में कछुआ रखने से घर का वातावरण शुद्ध और पवित्र बना रहता है और गंदी बीमारियां घर में नहीं आती है।

कछुआ: सफलता की ओर

आजकल करियर, नौकरी और व्यवसाय में तरक्की पाने के लिए प्रयासरत लोगों के लिए कछुआ शुभ फलदायी है। जो विद्यार्थी परीक्षा और प्रतियोगिता की तैयारी करते हैं, उनके लिए पीतल का बना कछुआ सफलता पाने में मददगार हो सकता है, कछुए से मिलने वाली सकारात्मक ऊर्जा बहुत ही कारगर होती है।

वास्तु और फेंगशुई के अनुसार, ऐसा कछुआ जिसकी पीठ पर कछुए के बच्चे हों, उसे संतान प्राप्ति के लिए शुभ माना जाता है। यह माना जाता है कि इस प्रकार का कछुआ घर में संतान की आगमन को प्रेरित करता है और परिवार में खुशियों की वृद्धि करता है। ऐसे कछुए को अक्सर घर के प्रमुख कक्षों में रखा जाता है, जैसे कि लिविंग रूम या बच्चों के कमरे में, ताकि उनका प्रभाव पूरे घर में फैल सके। यह प्रथाओं का एक प्राचीन और प्रसिद्ध तत्त्व है, जो कई लोगों द्वारा मान्यता प्राप्त किया जाता है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *