Sun. May 26th, 2024

news कलयुगी मां ने दिव्यांग बेटे को नहर में फेंका मगरमच्छ के जबड़े में मिली लाश 1

news कलयुगी मां ने दिव्यांग बेटे को नहर में फेंका मगरमच्छ के जबड़े में मिली लाश 1

news कलयुगी मां ने दिव्यांग बेटे को नहर में फेंका मगरमच्छ के जबड़े में मिली लाश 1

मां की ऐसी क्रूरता को जानकर रूह कांप उठती है। ऐसे क्रूर सामाजिक घटनाओं के बारे में सुनकर इंसान के दिल में दर्द और दुःख होता है। अपने ही बच्चे को हत्या करने की यह क्रूरता अत्यंत शोकाकुल कर देने वाली है। ऐसी भयानक घटनाएं सामाजिक जागरूकता की आवश्यकता को और भी महत्वपूर्ण बनाती हैं ताकि ऐसी घटनाओं को रोका जा सके। उस दिव्यांग बच्चे की हत्या जैसी घटनाओं से हमें समाज में जागरूकता फैलानी चाहिए ताकि इस तरह की क्रूरताओं को रोका जा सके और जिम्मेदार व्यक्ति को सजा मिले।

latest news

कर्नाटक news

जब लोगों को एक कलयुगी मां की करतूत के बारे में पता चला, तो उनकी रूह कांप उठी। उसने अपने ही जिगर के टुकड़े की हत्या कर दी। मामला कर्नाटक का है। महिला ने अपने 6 साल के दिव्यांग बेटे को काली नदी में फेंक दिया। नदी में मगरमच्छ थे, जो बच्चे को खा गए। रेस्क्यू टीम ने उसके शव को मगरमच्छ के जबड़े से निकाला।

वहीं, पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाली सावित्री (32) और उसके पति रवि कुमार (36) के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है और दोनों को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया गया है। घटना की पूरे इलाके में निंदा हो रही है और लोग बेटे की हत्या करने वाले माता-पिता को कड़ी सजा देने की मांग कर रहे हैं।

पूछताछ के दौरान, घबरा गए और अपना अपराध कबूल कर लिया। पुलिस अधिकारियों के अनुसार, इस घटना का मामला उत्तर कन्नड़ जिले के दांडेली तालुक के हलामदी गांव में हुआ। मृतक बच्चे का नाम विनोद था, जो विकलांग था और उसे लेकर सावित्री और रवि के बीच अक्सर झगड़े होते थे। विनोद जन्म से ही सुनने और बोलने में असमर्थ था। शनिवार की रात को उनके बीच फिर से झगड़ा हुआ और सावित्री ने उन्हें काली नदी में फेंक दिया। पड़ोसियों ने विनोद को गायब देखा और पुलिस को सूचना दी। जब पुलिस रवि और सावित्री से पूछताछ के लिए पहुंची, तो वे घबरा गए और अपराध कबूल कर लिया। पुलिस ने नदी में तलाश और बचाव अभियान चलाया, लेकिन रात के अंधेरे के कारण कुछ पता नहीं चल सका news

इंस्पेक्टर कृष्णा ने बताया कि रविवार की सुबह लगभग 9 बजे, जब सर्च टीम ने दोबारा खोज ऑपरेशन शुरू किया, तो बच्चे का शव मगरमच्छ के जबड़े में मिला, जिसे बड़ी मुश्किल से बाहर निकाला गया। मगरमच्छ ने बच्चे का दाहिना हाथ भी खा लिया था। पुलिस ने बताया कि विनोद के शरीर पर चोट के निशान हैं और काटने के निशान भी मिले हैं। विनोद की हत्या के आरोप में उसके माता-पिता के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया गया है। आरोपी रवि राजमिस्त्री है। सावित्री एक होमस्टे में नौकरानी के रूप में काम करती है। आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। इंस्पेक्टर कृष्ण ने बताया कि हत्या के आरोपी माता-पिता के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *