Sun. May 26th, 2024

क्लीनिक में आए मरीज ने डॉक्टर और उनकी पत्नी को काट डाला news

Table of Contents

“वे सबके सामने मेरी इंसल्ट कर देते थे”, चेन्नई में एक क्लीनिक में आए मरीज ने डॉक्टर और उनकी पत्नी को काट डाला

'वे सबके सामने मेरी इंसल्ट कर देते थे', चेन्नै में क्लीनिक आए मरीज ने डॉक्टर और उनकी पत्नी को काट डाला
 आए मरीज ने डॉक्टर और उनकी पत्नी को काट डाला

तमिलनाडु के चेन्नै में डबल मर्डर की घटना सामने आई है। यहां पर एक डॉक्टर अपनी पत्नी के साथ रहते थे। उनका एक मरीज पहले इलाज कराता था और बाद में उसने रुपये लेने लगा। वह उसकी मदद कर देते थे लेकिन फिर जब उन्हें शक हुआ तो उन्होंने आरोपी को रुपये देना बंद कर दिया

क्लीनिक में आए मरीज ने डॉक्टर और उनकी पत्नी को काट डाला news

चेन्नई: तमिलनाडु के अवाडी में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां के मित्तनमल्ली में दोहरा हत्याकांड हुआ है। यहां के निवासी और आयुर्वेदिक चिकित्सक 72 वर्षीय सिवन नायर और उनकी पत्नी 62 वर्षीय सेवानिवृत्त शिक्षिका प्रसन्ना कुमारी की उनके घरेलू क्लिनिक में हत्या कर दी गई। पुलिस ने हत्या के सिलसिले में राजस्थान के जोधपुर से 20 वर्षीय टी. मागेश को गिरफ्तार किया। उन्होंने घटनास्थल पर छोड़े गए मोबाइल फोन की मदद से उसका पता लगाया। पुलिस ने बताया कि सिवन नायर भूतपूर्व सैनिक थे और दंपत्ति मित्तनमल्ली में गांधी नगर मेन रोड के पास रहते थे। वे लगभग तीन दशकों से अपने घर के बगल में क्लीनिक चलाते थे और शहर भर से उनके मरीज आते थे।

दंपति की हत्या में हैरान की बात यह भी है कि उनका घर घनी बस्ती में हैं। आसपास सारे घर सटे हुए बने हैं, इसके बावजूद दोनों की हत्या कर दी गई और किसी ने भी दंपति के चीखने-चिल्लाने की आवाज नहीं सुनी।

मरीज ने देखी लाशें

शाम करीब 6 बजे क्लीनिक पर आए एक मरीज ने सिवन नायर को बरामदे के बाहर खून से लथपथ पाया। घर के अंदर उनकी पत्नी मृत पाई गई। उसने मोहल्ले के अन्य लोगों और दंपति के बेटे हरिओम को इसकी सूचना दी। मुथापुदुपेट पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने शवों को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी किलपौक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल भेजा।

मोबाइल से आरोपी तक पहुंची पुलिस

पुलिस ने घटनास्थल से एक मोबाइल फोन उठाया, जिससे उन्हें मगेश का पता चला। आयुर्वेदिक डॉक्टर हरिओम भी मगेश पर शक जताया और कहा कि उसकी मां ने दो हफ्ते पहले उससे इस युवक के बारे में शिकायत की थी।

2019 में मरीज बनकर आया था

हरिओम ने पुलिस को बताया कि उसकी मां ने मागेश के बारे में बताया था और कहा था कि वह पैसे मांगने के लिए किसी भी समय आकर उन्हें परेशान करता था। आधी रात को आ जाता था। केके नगर में एक हार्डवेयर की दुकान में काम करने वाला मागेश 2019 से दंपति के पास गैस्ट्रिक समस्याओं का इलाज करवा रहा था। ‘पिछले दो हफ्तों में, प्रसन्ना कुमारी को उसकी गतिविधियों पर शक हुआ। उसने उसे घर के अंदर नहीं आने दिया और उसे बाहर से दवाएं लाने के लिए कहा।

अवाडी के पुलिस उपायुक्त अयमान जमाल ने कहा कि रविवार शाम को मगेश ने प्रसन्ना कुमारी से बहस की जिसके बाद उसने उसकी हत्या कर दी। जब सिवन नायर अपनी पत्नी की चीखें सुनकर दौड़कर आया तो उसने उसकी भी हत्या कर दी। बाद में वह बाइक टैक्सी से भाग गया। यह घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। मगेश ने पुलिस को बताया कि वह दूसरे मरीजों के सामने बार-बार अपमानित होने से हताश था। मगेश को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। पड़ोसी श्रीकुमार ने दम्पति को मृदुभाषी बताया और कहा कि वे इलाके के लोगों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते थे।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *