शरीर में दिखें ये लक्षण तो समझे मृत्यु होने वाली है

body death

मृत्यु के संकेत: किसी की मृत्यु कब होगी, यह निश्चित तौर पर बताना काफी मुश्किल होता है। हालांकि, शरीर मौत से कुछ समय पहले ही संकेत देना शुरू कर देता है। यदि किसी के शरीर में हो रहे बदलावों को ध्यान से देखा जाए तो ये पता चल सकता है कि उसकी मृत्यु होने वाली है। body

body death शरीर में दिखें ये लक्षण तो समझे मृत्यु होने वाली है

जिस व्यक्ति की मृत्यु होने वाली होती है, उसके शरीर, त्वचा, आंखों और श्वसन तंत्र में तेजी से बदलाव होते हैं। इनमें कुछ संकेत इतने स्पष्ट होते हैं कि ध्यान से देखने पर आसानी से पता चल सकता है कि मृत्यु निकट है। हालांकि, फिर भी यह बताना लगभग नामुमकिन होता है कि मृत्यु कब होगी। body

 

अगर किसी व्यक्ति की मौत निकट होती है, तो वह अपनी आंखों को बार-बार और अधिक समय के लिए बंद करने लगता है। कई बार उसकी आंखें आधी खुली रहती हैं। इसके अलावा, ऐसे व्यक्ति के चेहरे की मांसपेशियां काफी रिलेक्स नजर आती हैं और उसका जबड़ा ज्यादातर समय हल्का खुला रहता है। मरने वाले व्यक्ति की त्वचा धीरे-धीरे पीली पड़ने लगती है। उसकी सांसों की रफ्तार बदल जाती है और सांस लेते समय अधिक आवाज आने लगती है। हालांकि, कुछ मामलों में लोग बिना आवाज के धीमी सांस लेने लगते हैं।  body

 

हर व्यक्ति का अनुभव होता है अलग

मृत्यु का पल किसी के लिए भी अक्सर बहुत गहरा कष्ट देता है, इससे फर्क नहीं पड़ता कि मरने वाला व्यक्ति इसकी उम्मीद कितने लंबे समय से कर रहा था। हो सकता है कि वह किसी से बात करना चाहता हो या परिवार और मित्रों को कॉल करके उनसे बात करना चाहता हो। कुछ लोग आखिरी समय में बिल्कुल अकेला रहना पसंद करते हैं। कुछ लोग उदासी से भरा हुआ महसूस करते हैं। उनके आसपास मौजूद लोगों के लिए यह समझना मुश्किल होता है कि मरने वाला व्यक्ति कैसा महसूस कर रहा है। मृत्यु का पल मरने वाले व्यक्ति को अचंभित कर सकता है। हर व्यक्ति के मरने और शोक का अनुभव अलग होता है।

शरीर में दिखें ये लक्षण तो समझे मृत्यु होने वाली है

करीबियों को कैसा होता है महसूस?

किसी व्यक्ति के मरने के बाद उसके करीबी लोगों का दुखी होना स्वाभाविक प्रतिक्रिया है। किसी की मृत्यु पर दुखी होना और रोना बेहद अहम है। यह भावनाओं का अत्यंत दर्दनाक दौर हो सकता है। हर व्यक्ति इसे अलग तरह से महसूस करता है। इसमें सबसे ज्यादा जरूरी है कि जब तक पूरी तरह से इससे बाहर न निकल जाएं, दुखी होना या आंसू बहाना स्वाभाविक है और इसे रोकना नहीं चाहिए। अक्सर करीबी व्यक्ति के मरने के तुरंत बाद की भावनाएं बहुत दर्दनाक होती हैं। भावनात्मक दर्द के साथ-साथ मरने वाले के करीबियों में कुछ शारीरिक प्रतिक्रियाएं भी हो सकती हैं, जो उन्होंने पहले कभी अनुभव नहीं की हों। body

 

कैसे उबरें मौत के सदमे से करीबी?

समय के साथ, कई लोग अपने करीबी की मौत को स्वीकार करना शुरू कर देते हैं। अलग-अलग समय पर, अलग-अलग लोगों को सामान्य जीवन में लौटने के लिए तैयार होने जैसा महसूस होने लगता है। हालांकि, इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं होता कि जल्द ही सामान्य जीवन में लौटने वाले लोग मरने वाले व्यक्ति को भूल गए हैं। दरअसल, ऐसे लोग अपने परिजन की मृत्यु को दूसरों के मुकाबले जल्दी स्वीकार कर लेते हैं और धीरे-धीरे मरने वाले व्यक्ति के बारे में सोचकर विचलित होना कम कर देते हैं।

 

कुछ लोगों को इस तरह की भावनाओं से उबरने में कुछ महीने भी लग सकते हैं। ऐसे लोगों को ज्यादा से ज्यादा लोगों से घुलना-मिलना चाहिए और अपने आप को सामाजिक गतिविधियों में शामिल करना चाहिए। अपने दुख को साझा करना और किसी से बात करना भी सहायक हो सकता है। समय के साथ, वे धीरे-धीरे सामान्य जीवन में वापस लौट सकते हैं।

 

body death

health news

 

Related Posts

Nightfall Rokne Ke Upay in Hindi

रिलेटेड जानी जानेवाली तमाम बीमारियों में से एक है नाईट फॉल यानी स्वप्नदोष। सोते समय वीर्य का स्वतः ही निकल जाना नाईट फॉल कहलाता है। युवावस्था में यह एक आम…

रात को सोने से पहले करें विशेष काम

health tips रात को सोने से पहले कुछ विशेष कार्यों को करना ज्योतिष शास्त्र में महत्वपूर्ण माना गया है, जो आपके भाग्य को सुधारने में मदद कर सकते हैं। इसमें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

Nightfall Rokne Ke Upay in Hindi

रात को सोने से पहले करें विशेष काम

रात को सोने से पहले करें विशेष काम

Rahul Gandhi

Rahul Gandhi

Tank vs Martin

Tank vs Martin

Meloni

Meloni

Eid ul Adha

Eid ul Adha